10 Folgen

‘राह – एक करियर पॉडकास्ट ‘, सुनो इंडिया की एक हिंदी पॉडकास्ट श्रृंखला है, जिसके माध्यम से हम हमारे देश में उपलब्ध उन् करियर विकल्पों के बारे में अवगत करवाते हे जिनके बारे में शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के स्टूडेंट्स को शायद जानकारी नहीं हे।
वैसे भी 120 करोड़ आबादी वाले देश में, जंहा इतनी विविधता है, वहां हम एक ही तरह के विकल्पों से सभी को रोज़गार नहीं उपलब्ध करवा सकते और हमे अन्य विकल्पों की तलाश करने की आवश्यकता है। इस पॉडकास्ट के माध्यम से, हम उन करियर विकल्पों पर जागरूकता बढ़ाने की उम्मीद करते हैं जो समाज में लोकप्रिय करियर से विभिन्न हैं।
हम आपको इन करियर विकल्पों में मिलने वाले वेतन, भविष्य की संभावनाओं के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले कुछ सवालों के जवाबों से भी अवगत करवाने की कोशिश करेंगे। इसी के साथ हम इन उद्योगों के विशेषज्ञों के अलावा इनमे काम कर रहे पेशेवरों के जीवंत अनुभवों पर भी प्रकाश डालेंगे।
(‘राह – A Career Podcast’ is a Hindi podcast series by Suno India, which will highlight different career options from industry domains away from the norm.
In a country with 1.2 billion population, we don’t have a one-size-fits-all solution and need to look for other options. Through this podcast, we hope to raise awareness of the various career options that are available for one beyond the usual.
In this series, we will bring you answers to some frequently asked questions regarding salary, career prospects among others. Apart from bringing voices of industry experts, we will also highlight lived experiences of professionals.)
For more stories like this, tune into www.sunoindia.in

Raah – A Career Podcast Suno India

    • Karriere

‘राह – एक करियर पॉडकास्ट ‘, सुनो इंडिया की एक हिंदी पॉडकास्ट श्रृंखला है, जिसके माध्यम से हम हमारे देश में उपलब्ध उन् करियर विकल्पों के बारे में अवगत करवाते हे जिनके बारे में शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के स्टूडेंट्स को शायद जानकारी नहीं हे।
वैसे भी 120 करोड़ आबादी वाले देश में, जंहा इतनी विविधता है, वहां हम एक ही तरह के विकल्पों से सभी को रोज़गार नहीं उपलब्ध करवा सकते और हमे अन्य विकल्पों की तलाश करने की आवश्यकता है। इस पॉडकास्ट के माध्यम से, हम उन करियर विकल्पों पर जागरूकता बढ़ाने की उम्मीद करते हैं जो समाज में लोकप्रिय करियर से विभिन्न हैं।
हम आपको इन करियर विकल्पों में मिलने वाले वेतन, भविष्य की संभावनाओं के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले कुछ सवालों के जवाबों से भी अवगत करवाने की कोशिश करेंगे। इसी के साथ हम इन उद्योगों के विशेषज्ञों के अलावा इनमे काम कर रहे पेशेवरों के जीवंत अनुभवों पर भी प्रकाश डालेंगे।
(‘राह – A Career Podcast’ is a Hindi podcast series by Suno India, which will highlight different career options from industry domains away from the norm.
In a country with 1.2 billion population, we don’t have a one-size-fits-all solution and need to look for other options. Through this podcast, we hope to raise awareness of the various career options that are available for one beyond the usual.
In this series, we will bring you answers to some frequently asked questions regarding salary, career prospects among others. Apart from bringing voices of industry experts, we will also highlight lived experiences of professionals.)
For more stories like this, tune into www.sunoindia.in

    जीवन विज्ञान: जैव प्रौद्योगिकी में एक शोधकर्ता होने कैसा लगता हे। (Life Sciences: What it is like to be a researcher in Biotechnology.)

    जीवन विज्ञान: जैव प्रौद्योगिकी में एक शोधकर्ता होने कैसा लगता हे। (Life Sciences: What it is like to be a researcher in Biotechnology.)

    इसी कड़ी में AIIMS में बायोटेक्नोलॉजी के शोधकर्ता शिरीन शाजहाँ ने इस क्षेत्र में होने के अपने अनुभव को साझा किया और हमें यह भी बताया कि भारत में जैव प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एक शोध करियर को आगे बढ़ाने में कौन सी बाधाएं आ सकती हैं।
    (In this episode, Shireen Shajahan, a biotechnology researcher in AIIMS shares her experience to be in this field and also tells us what obstacles one can get to pursue a research career in Biotechnology in India.)
    For more stories like this, you can listen to www.sunoindia.in (http://www.sunoindia.in/) . Also follow us on Facebook (https://www.facebook.com/sunoindia.in) , Twitter (https://twitter.com/SunoIndia_in) or Instagram (https://www.instagram.com/sunoindia.in) .

    • 16 Min.
    जीवन विज्ञान: जैव प्रौद्योगिकी में करियर विकल्प (Life Sciences: A career option in biotechnology)

    जीवन विज्ञान: जैव प्रौद्योगिकी में करियर विकल्प (Life Sciences: A career option in biotechnology)

    बढ़ती जनसंख्या का अर्थ है एक बढ़ती हुई आबादी और उच्च रोग के बोझ की संभावना। इससे पिछले कुछ दशकों में जीवन विज्ञान के क्षेत्र में अधिक शोध और विश्लेषण की आवश्यकता बढ़ी है, और इसके साथ ही मानव संसाधन की आवश्यकता भी।
    राह के इस एपिसोड में जैव प्रौद्योगिकी क्षेत्र के बारे में अधिक जानने के लिए, हम केतकी निखिल से बात की, जो की एक जैव रसायन पेशेवर हैं और उनसे जानने की कोशिश की उनका इस क्षेत्र का अनुभव कैसा रहा अब तक और भारत में युवाओं के लिए इस क्षेत्र में किस तरह के विकल्प उपलब्ध हैं।
    (A growing population means an ageing population and also possibility of high disease burden. This has led to an increased need for more research and analysis in the field of life science has been increased in the last few decades, so does the need for human resources. 
    To know more about this field, we talk to Ketiki Nikhil, a biochemistry professional about her experience in working in this field and career options that are available for aspiring youngsters.)
    For more stories like this, you can listen to www.sunoindia.in (http://www.sunoindia.in/) . Also follow us on Facebook (https://www.facebook.com/sunoindia.in) , Twitter (https://twitter.com/SunoIndia_in) or Instagram (https://www.instagram.com/sunoindia.in) .

    • 22 Min.
    सौर ऊर्जा क्षेत्र: भारत के स्वच्छ ऊर्जा क्षेत्र में एक स्टार्टअप की कहानी। (Solar Sector: Story of a startup in India’s clean ene

    सौर ऊर्जा क्षेत्र: भारत के स्वच्छ ऊर्जा क्षेत्र में एक स्टार्टअप की कहानी। (Solar Sector: Story of a startup in India’s clean ene

    इस कड़ी में, हम सुनेगे श्रीकांत बोहरा जी को, जो की Akshay Power के Co – Founder हैं की उनका अनुभव भारत में बढ़ते हुए सौर ऊर्जा की क्षेत्र में कैसा रहा और उन्होंने अपने गृह क्षेत्र में रहकर अपना सोलर सेक्टर का स्टार्टअप कैसे शुरू किया।
    हम इनसे इनकी राय भी जानेंगे की इनके व्यक्तिगत और व्यावसायिक अनुभव के आधार पर क्या छात्रों को कॉलेज से निकलने के बाद किसी नौकरी की तलाश करनी चाहिए या एक व्यवसाय शुरू करना चाहिए?
    (In this episode, Mr Shrikant Bohra, Co-Founder, Akshay Power shares his experience that how he explored India’s energy sector and built a product to support this growing sector. 
    He also talks about his opinion on whether one should choose a job or become an entrepreneur right after college based on his own personal and professional experience.)

    • 28 Min.
    सौर ऊर्जा क्षेत्र: करियर के अवसरों के साथ तेजी से बढ़ता क्षेत्र। (Solar Sector: A fast growing sector with vast career opportunities)

    सौर ऊर्जा क्षेत्र: करियर के अवसरों के साथ तेजी से बढ़ता क्षेत्र। (Solar Sector: A fast growing sector with vast career opportunities)

    राह के इस एपिसोड में हमने सौर ऊर्जा के क्षेत्र में करियर के अवसरों का पता लगाने और इसमें कुशल श्रमिकों की बढ़ती मांग के लिए, नीरज कुलदीप जी जो की Council on Energy, Environment and Water (CEEW) में अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में शोधकर्ता हैं से बात की।
    CEEW द्वारा किए गए शोध के अनुसार, इस क्षेत्र में निकट भविष्य में 3 लाख नई नौकरियां उपलब्ध होंगी लेकिन वर्तमान में इसकी मांग को पूरा करने के लिए हमारे देश में पर्याप्त कुशल श्रमशक्ति उपलब्ध नहीं हैं।
    (To explore the career opportunities in the solar sector and increasing demand for skilled workers in it, we reached out to Mr Neeraj Kuldeep, Programme Lead of Renewable Energy in Council on Energy, Environment and Water (CEEW)
    According to research carried out by CEEW, 3 lac new jobs will be available in this sector in the near future but not enough skilled manpower are currently available to fill the demand. )

    • 35 Min.
    पर्यावरण क्षेत्र: भारत में एक पर्यावरण पेशेवर होने का अनुभव (Environment Sector: What is it like to be an environmental professional in India- A first-hand

    पर्यावरण क्षेत्र: भारत में एक पर्यावरण पेशेवर होने का अनुभव (Environment Sector: What is it like to be an environmental professional in India- A first-hand

    पर्यावरण विज्ञान के क्षेत्र में पेशेवर होना कैसा होता है और क्षेत्र में काम करने वालों के लिए भविष्य कैसा दिखता है? राह के इस एपिसोड में हमारे इन् सभी  प्रश्नों के उत्तर देने के लिए हमारे साथ हैं राकेश कमल, जो की एक जलवायु विशेषज्ञ हैं और पिछले एक दशक से ऊर्जा और जलवायु परिवर्तन के क्षेत्र में काम कर रहे हैं।
    (How is it like to be an environmental science professional and what does the future look like for those working in the field. We asked all these questions and more to Mr Rakesh Kamal, a climate expert with over a decade of experience in the energy and climate change field from groundwork to advocacy.)
    For more stories like this, you can listen to www.sunoindia.in (http://www.sunoindia.in/) . Also follow us on Facebook (https://www.facebook.com/sunoindia.in) , Twitter (https://twitter.com/SunoIndia_in) or Instagram (https://www.instagram.com/sunoindia.in) .

    • 17 Min.
    पर्यावरण क्षेत्र: एक बहु-विकल्प करियर (Environment Sector: A Multi-choice career option)

    पर्यावरण क्षेत्र: एक बहु-विकल्प करियर (Environment Sector: A Multi-choice career option)

    राह की इस एपिसोड में, The Energy Resource Institute (TERI) के श्री अमित कुमार, निदेशक, सामाजिक परिवर्तन ने हमे ऊर्जा, सतत विकास और हरित कौशल सहित पर्यावरण और ऊर्जा क्षेत्र की शाखाओं में उपलब्ध नौकरियों के बारे में बताया।
    (In this episode of Raah, Mr Amit Kumar, Director of Social Transformation from The Energy Resource Institute (TERI) explains the range of jobs available in the environment sector branches including energy, sustainable development, and green skills.)
    For more stories like this, you can listen on www.sunoindia.in (http://www.sunoindia.in/) . Also follow us on Facebook (https://www.facebook.com/sunoindia.in) , Twitter (https://twitter.com/SunoIndia_in) or Instagram (https://www.instagram.com/sunoindia.in) .

    • 30 Min.

Top‑Podcasts in Karriere